खतरनाक हो सकता है टैटू बनवाना, जानिए टैटू का आपके स्वास्थ्य पर प्रभाव

टैटू बनवाने का फैशन बहुत दिनों से चला आ रहा है | और आज इस फैशन ने और ज्यादा जोर  पकड़ लिया है | बड़े बड़े अभिनेता-अभिनेत्री हों, क्रिकेट के खिलाडी हों या फिर आम आदमी ही क्यूँ न हों शरीर पर टैटू बनवाना सर्वव्यापक हो गया है | लेकिन जहाँ टैटू से आपका एक स्टाइल स्टेटमेंट बनता है वहीँ टैटू बनवाने से पहले कुछ बातों का जरूर ध्यान रखना चाहिए | जानिए टैटू को शरीर में बनवाने के प्रभाव जिनसे आप अपने हेल्थ की ज्यादा ना सही लेकिन, थोड़ी सी प्रोटेक्शन तो जरूर कर पाएंगे |

  • चमड़ी के परत को प्रभावित करते है

टैटू में उपयोग किये गए इंक और नीडल  चमड़ी के ऊपरी परत के सेल्स को प्रभावित करती है जिससे आप बहुत बड़ी समस्या में आ सकते है | इसलिए हमारी सलाह यही रहेगी की आप अपने आपको टैटू से रोकिये | आमतौर पे  डिस्ट्रॉय हुए सेल्स  2 से 3 हफ्ते में फिर से बन जाते है लेकिन यह एक बड़ी समस्या को भी जन्म दे सकते है |

Photo Courtesy :BlogSpot

आपके शरीर के इम्यून सिस्टम को करती है प्रभावित

टैटू में इस्तेमाल इंक जब नीडल की मदद से आपके चमड़ी के ऊपरी परत में जाती है तो यह इम्यून सिस्टम को मेन्टेन करने वाले सेल्स को बहुत बुरे तरीके से नुकसान पहुंचाती है जिससे आपमें किसी भी बीमारी के होने का खतरा बहुत ज्यादा हो जाता है |

  • कई जगहों में ज्यादा चोंट लग जाती है
  • टैटू बनवाने से नीडल का यूज आपके शरीर के कई जगह में दर्द पैदा कर देता है | इसका सीधा सा कारण यह है की नीडल से आपके हड्डियों में बहुत बड़ा असर होता है जिससे आपके कोहनी, गुठने जैसी कई जगह में दर्द होने लगता है |
  • सनबर्न से डर
  • सनबर्न किसी को भी नहीं पसंद है लेकिन जब कभी सनबर्न का सामना करना होता है तो आपको ज्यादा समस्या को नहीं झेलना पड़ता है लेकिन, टैटू बनवाने के बाद अगर आप कभी सनबर्न की समस्या में फंस जाते है ओ आपके टैटू में इस्तेमाल किया गया इंक आपक त्वचा में फ़ैल जाता है जो आपके ब्लड को भी pollute कर सकता है और आप किसी बड़े रोग के शिकार हो सकते है |
  • एमआरआई में खतरा
  •  एमआरआई के दौरान, शरीर के सेल्स रेडियो वेव्स और मैग्नेट के प्रेजेंट होने पर रिएक्शन करते है | जिसमे प्रोटोन का आपके शरीर में उपयोग की गई इंक से रिएक्शन एक बहुत बड़ी समस्या पैदा कर सकता है | कुछ प्रकार के इंक, विशेष रूप से लाल इंक में लोहा या लोहे के आक्साइड होते हैं यदि अप साइंस के बारे में कुछ भी जानते है तो यह भी जानते होंगे के आयरन मैगनेट से कैसा सम्बन्ध रखता है, और एमआरआई में के दौरान मैगनेट सेल्स इन आयरन पार्टिकल्स से रिएक्शन करते है और किसी ना किसी खतरे को जन्म दे देते है | इससे आपका शरीर एक चुम्बक की तरह काम करने लगता है जिससे आपके शरीर में जलन भी बढ़ सकती है |

आपको अगर टैटू बनवाने का शौक तो आप किसी एक्सपर्ट् से ही इसे बनवाएं और बनवाने से पहले इससे होने वाले और नुकसानो को बारे में पता करलें |